आदिवासी क्षेत्रों में 7 हजार से अधिक लोगों को मिला रोजगार

प्रदेश के आदिवासी क्षेत्रों में खादी-ग्रामोद्योग, रेशम, हस्त-शिल्प और हाथकरघा की गतिविधियों से जोड़कर 7 हजार से अधिक व्यक्तियों को रोजगार के अवसर मिले हैं। आदिवासी उप-योजना मद में कुटीर एवं ग्रामोद्योग की गतिविधियों में 13 करोड़ 11 लाख रुपये की राशि खर्च की गई, जिससे 127 हितग्राहियों को स्व-रोजगार से जुड़ी विधाओं में प्रशिक्षण दिलाया गया। खादी एवं ग्रामोद्योग द्वारा आदिवासी वर्ग के करीब 600 कारीगरों और शिल्पियों को स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिये बैंक से ऋण दिलाये गये।


आदिवासी उप-योजना से लाभान्वित हितग्राहियों को मार्जिन मनी की राशि 4 करोड़ 61 लाख रुपये राज्य सरकार के माध्यम से उपलब्ध कराई गई। हस्त शिल्प विकास निगम द्वारा 16 आदिवासी जिलों में 825 शिल्पियों और बुनकरों को प्रशिक्षण दिलवाया गया। इसी दौरान आदिवासी क्षेत्र में टसर रेशम विकास और विस्तार कार्यक्रम के अंतर्गत 4 करोड़ 21 लाख रुपये की राशि खर्च कर 4 हजार 228 हितग्राहियों को प्रशिक्षण देकर रेशम पालन की गतिविधियों से जोड़ा गया है।


Popular posts
नवरात्र विशेष : दिन में तीन रूपों में दर्शन देती हैं रानगिर की मां हरसिद्धि
Image
18+ का वैक्सीनेशन शुरू:भाजपा शासित 5 राज्यों समेत 11 अन्य का वैक्सीनेशन से इंकार; केंद्र ने कहा- राज्यों के पास 1 करोड़ से अधिक डोज
Image
भास्कर एक्सप्लेनर:6 महीने पहले ही पहचान लिया गया था भारत में तबाही मचाने वाला वैरिएंट; फिलहाल 17 देशों में मिल चुका
Image
बंगाल में वोटिंग LIVE:35 सीटों पर 11 बजे तक 37.80% मतदान; उत्तर कोलकाता में ऑडिटोरियम के पास बम फेंकने की घटना, चुनाव आयोग ने रिपोर्ट मांगी
Image
मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ:बंगाल में दीदी की वापसी पर खुद चुनाव हारीं, तृणमूल को जिताकर PK ने संन्यास लिया, UP में चुनाव में कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ीं
Image