आकांक्षा योजना में 700 से अधिक आदिवासी विद्यार्थियों को प्रशिक्षण

प्रदेश में आकांक्षा योजना के अंतर्गत आदिवासी वर्ग के 715 विद्यार्थियों को प्रदेश एवं देश के प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थानों में प्रवेश के लिये कोचिंग दी जा रही है। कोचिंग की व्यवस्था जबलपुर, इंदौर, भोपाल एवं ग्वालियर में की गई है। आदिम-जाति कल्याण विभाग द्वारा इसके लिये इस वर्ष 11 करोड़ 50 लाख रुपये का प्रावधान किया गया है। वर्तमान में जेईई में 365, नीट में 187 और क्लेट में प्रवेश के लिये 163 विद्यार्थी कोचिंग प्राप्त कर रहे हैं।


 


आकांक्षा योजना में जेईई, नीट और क्लेट आदि की प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिये नि:शुल्क कोचिंग दिये जाने की व्यवस्था है। कोचिंग लेने वाले विद्यार्थियों को इन स्थानों पर संचालित छात्रावासों में नि:शुल्क आवासीय सुविधा उपलब्ध करवाई गई है।


Popular posts
नवरात्र विशेष : दिन में तीन रूपों में दर्शन देती हैं रानगिर की मां हरसिद्धि
Image
5 राज्यों के चुनाव नतीजों का सबक:भाजपा को समझना होगा कि सांस्कृतिक पहचान वाले राज्यों में दिल्ली की राजनीति नहीं चलेगी; कांग्रेस को रीजनल लीडर तैयार करने की जरूरत
Image
MP में लालची अस्पतालों पर नकेल:भोपाल में 8 अस्पतालों ने मरीजों से 18 लाख रु. ज्यादा लिए थे, सब लौटाने पड़े; सरकार बोली- लोग FIR कराएं
Image
अफसरों के दबाव में दो डॉक्टरों का इस्तीफा:इंदौर की स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गाडरिया बोलीं - कलेक्टर का व्यवहार सही नहीं; मानपुर के मेडिकल ऑफिसर ने लिखा- एसडीएम के व्यवहार से व्यथित हूं
Image
झारखंड के 32 गांवों से ग्राउंड रिपोर्ट:पांच दिन में जाना संथाली आदिवासी और कुरमी बहुल इलाकों का हाल, इनमें 20 गांवों के 3834 परिवारों में एक भी संक्रमित नहीं मिला
Image