आस्ठान योजना में डिण्डोरी जिले के 23 ग्रामों में बनेंगे सामुदायिक भवन

राज्य शासन द्वारा आदिम जाति कल्याण की आस्ठान योजना में इस वर्ष डिण्डौरी जिले के 23 ग्रामों में 10-10 लाख रूपये की लागत से सामुदायिक भवन का निर्माण कराया जाएगा। साथ ही डिण्डौरी जिले के 50 और छिन्दवाड़ा जिले के 121 देव स्थानों पर डेढ़-डेढ़ लाख रूपये की लागत से आदिवासियों के देव स्थानों के जीर्णोद्धार के कार्य कराए जाएंगे। कार्यों में चबूतरा निर्माण और फेन्सिंग कार्य प्रमुख हैं। आदिम जाति कल्याण मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम की अध्यक्षता में हाल ही में हुई बैठक में यह जानकारी दी गई।


आस्ठान योजना में पहले वर्ष में मण्डला जिले के चौगान स्थल, छिंदवाड़ा के हरियागढ़ और झाबुआ के बारादेव में 50-50 लाख रूपये के निर्माण कार्यों को स्वीकृति दी गई। इन स्थलों का नक्शा तैयार करने का कार्य पूरा कर लिया गया है। इन कार्यों के लिये कुल 6 करोड़ 40 लाख रूपये की राशि मंजूर की गई है। बड़वानी जिले के भंवरगढ़, डिण्डौरी जिले के करवेम्टा, राम्हेपुर और डिण्डौरी में देव स्थलों में बुनियादी सुविधाओं के लिये केन्द्र सरकार की मदद से राशि खर्च की जा रही है।


डिण्डौरी जिले के जिन 23 ग्रामों में 10-10 लाख रूपये की लागत से सामुदायिक भवन बनेंगे, उनमें ग्राम नारायणडीह, बरैधा, जोगीखिरिया, नेवसा, बीजापुरी, मुकुटपुर, मोहती, समनापुर, अण्डई, पौडी, चांडा, गिरवरपुर, मझियाखार, केवलारी, खुरखुरी दादर, मुसन्डा, झनकी, मूसामुण्डी, पिंण्डसरयी, मसूरघुघरी, चौगान, चुरिया और कलवाखौरी शामिल हैं।