Corona virus Udaipur : कोरोना संक्रमित किशोर की हॉस्पिटल में कार्यरत ताई, ताउ और भाई भी संक्रमित


उदयपुर। शहर के मल्लातलाई में 15 साल के किशोर के कोरोना पॉजिटिव आने के अगले दिन उसी के परिवार के तीन लोग और संक्रमित पाए गए हैं। शुक्रवार को आयी रिपोर्ट के अनुसार किशोर की मौसी उमाना उम्र 46 वर्ष, जो उसकी ताई भी हैं, ताउ जी मोहम्मद सुहुलाल शेख उम्र 47 वर्ष और और भाई नोहिद शेख उम्र 16 वर्ष के भी कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। सभी जॉइंट फैमिली में साथ रहते हैं।


इस सूचना के आते ही प्रशासन और एमबी हॉस्पिटल में हड़कंप मच गया है। क्यों कि बच्चे की मौसी/ताई एमबी हॉस्पिटल के स्वाईन फ्लू वार्ड में नर्स हैं और वे पिछले दिनों में स्वाईन फ्लू वार्ड में तैनात दो डॉक्टर्स और 18 नर्सिंग स्टाफ के साथ ड्यूटी के दौरान संपर्क में रही हैं। ऐसे में प्रशासन अब इन डॉक्टर्स और नर्सिंग स्टाफ को भी आईसोलेट करेगा और इनकी भी जांच की जाएगी।


 एमबी हॉस्पिटल के लिए यह खतरे की घंटी है, क्यों कि अगर संपर्क में आए डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ मे यह संक्रमण पहुंच चुका होगा, तो डर है कि स्थिति भीलवाड़ा जैसी न हो जाए..! 


स्क्रीनिंग कर रहे क्षेत्र में, किशोर में संक्रमण इंदौर से आने की संभावना


प्रशासन क्षेत्र में स्क्रीनिंग कर रहा है कि इस परिवारकिशोर में में संक्रमण ईदौर से आने की संभावना के संपर्क मे कौन-कौन आया है। प्रशासन लिस्ट तैयार कर रहा है, ताकि उन लोगों को भी क्वेरंटाइन किया जा सके। 15 साल के किशोर को यह संक्रमण इंदौर से ही लगने की संभावना जताई जा रही है, क्यों कि वह इंदौर में खरजाना क्षेत्र में रह रहा था, वहां 18 कोरोना पॉजिटिव केस आ चुके हैं।


Popular posts
नवरात्र विशेष : दिन में तीन रूपों में दर्शन देती हैं रानगिर की मां हरसिद्धि
Image
5 राज्यों के चुनाव नतीजों का सबक:भाजपा को समझना होगा कि सांस्कृतिक पहचान वाले राज्यों में दिल्ली की राजनीति नहीं चलेगी; कांग्रेस को रीजनल लीडर तैयार करने की जरूरत
Image
MP में लालची अस्पतालों पर नकेल:भोपाल में 8 अस्पतालों ने मरीजों से 18 लाख रु. ज्यादा लिए थे, सब लौटाने पड़े; सरकार बोली- लोग FIR कराएं
Image
अफसरों के दबाव में दो डॉक्टरों का इस्तीफा:इंदौर की स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गाडरिया बोलीं - कलेक्टर का व्यवहार सही नहीं; मानपुर के मेडिकल ऑफिसर ने लिखा- एसडीएम के व्यवहार से व्यथित हूं
Image
झारखंड के 32 गांवों से ग्राउंड रिपोर्ट:पांच दिन में जाना संथाली आदिवासी और कुरमी बहुल इलाकों का हाल, इनमें 20 गांवों के 3834 परिवारों में एक भी संक्रमित नहीं मिला
Image