महामारी कोरोना के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर पीएम मोदी ने देश की 40 प्रमुख खेल हस्तियों से की चर्चा


नई दिल्ली। महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस समय भारत के विभिन्न खेलों की 40 प्रमुख खेल हस्तियों से चर्चा कर रहे हैं। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए यह चर्चा हो रही हैं। महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के फैलने के बाद यह पहला मौका है जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश की खेल हस्तियों से चर्चा कर रहे हैं। यह बैठक सुबह 11 बजे से शुरू हुई। क्रिकेट जगत से सौरव गांगुली, महान क्रिकेटर सचिन तेंडुलकर, भारतीय कप्तान विराट कोहली, युवराज सिंह और महेंद्रसिंह धोनी इस बैठक में शामिल है। इनके अलावा वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियन पीवी सिंधु, हॉकी कप्तान रानी रामपाल, एथलीट हिमा दास भी इस बैठक में शामिल हैं। ऐसा माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी इस बैठक में क्रिकेट हस्तियों से महामारी कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता फैलाने पर जोर दे रहे हैं। महामारी कोरोना वायरस का कहर इस समय पूरी दुनिया में फैला हुआ है। इसकी वजह से भारत में 21 दिनों का लॉकडाउन चल रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि सौरव गांगुली इस बैठक के दौरान आईपीएल 2020 को लेकर चल रही अनिश्चितता का मुद्दा भी उठाएंगे। कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से आईपीएल 2020 को 15 अप्रैल तक के लिए टाला गया है। अब यह देखना है कि यह टी20 लीग कब शुरू हो पाती हैं। बीसीसीआई समेत प्रमुख भारतीय क्रिकेटरों ने महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में मदद का हाथ आगे बढ़ाया है। बीसीसीआई ने इस लड़ाई में 51 करोड़ रुपए की मदद की थी। भारतीय कप्तान विराट कोहली तथा उनकी पत्नी और बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा ने 3 करोड़ रुपए प्रदान किए थे। विराट और अनुष्का देशवासियों से लॉकडाउन के दौरान घरों में बने रहने की अपील कई बार कर चुके हैं। सचिन तेंडुलकर, सुरेश रैना, गौतम गंभीर, अजिंक्य रहाणे, महेंद्रसिंह धोनी समेत कई क्रिकेटर इस महामारी के खिलाफ लड़ाई में धनराशि डोनेट कर चुके हैं।


Popular posts
नवरात्र विशेष : दिन में तीन रूपों में दर्शन देती हैं रानगिर की मां हरसिद्धि
Image
5 राज्यों के चुनाव नतीजों का सबक:भाजपा को समझना होगा कि सांस्कृतिक पहचान वाले राज्यों में दिल्ली की राजनीति नहीं चलेगी; कांग्रेस को रीजनल लीडर तैयार करने की जरूरत
Image
MP में लालची अस्पतालों पर नकेल:भोपाल में 8 अस्पतालों ने मरीजों से 18 लाख रु. ज्यादा लिए थे, सब लौटाने पड़े; सरकार बोली- लोग FIR कराएं
Image
अफसरों के दबाव में दो डॉक्टरों का इस्तीफा:इंदौर की स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गाडरिया बोलीं - कलेक्टर का व्यवहार सही नहीं; मानपुर के मेडिकल ऑफिसर ने लिखा- एसडीएम के व्यवहार से व्यथित हूं
Image
झारखंड के 32 गांवों से ग्राउंड रिपोर्ट:पांच दिन में जाना संथाली आदिवासी और कुरमी बहुल इलाकों का हाल, इनमें 20 गांवों के 3834 परिवारों में एक भी संक्रमित नहीं मिला
Image